3 दिसंबर महाराष्ट्र में बंद का ऐलान,जिग्नेश मेवाणी और उमर खालिद के खिलाफ शिकायत दर्ज

0
20
Share Now :

महाराष्ट्र-महाराष्ट्र में दलित और मराठा समुदाय के बीच 200 साल पुराने युद्ध को लेकर भड़की जातीय हिंसा में हो गई है। दोनों के खिलाफ भड़काऊ भाषण देने के आरोप में शिकायत दर्ज कराई गई है, जिसके बाद हिंसा शुरू हुई।

एक जनवरी को पुणे के पास स्थित भीमा-कोरेगांव में दलित समाज के शौर्य दिवस पर भड़की जातीय हिंसा के चलते आज (3 दिसंबर) पूरे महाराष्ट्र में बंद का ऐलान किया गया है। भीमराव आंबेडकर के पोते प्रकाश अंबेडकर ने हिंसा रोकने में सरकार की विफलता के खिलाफ प्रदर्शन करने के लिए आज महाराष्ट्र बंद का आह्वान किया है। बता दें कि भीमा-कोरेगांव युद्ध के शौर्य दिवस के आयोजन को लेकर हुई हिंसा में एक व्यक्ति की मौत हो गई।

अंबेडकर ने कहा कि 250 से अधिक दलित संगठनों का इस बंद को समर्थन है। महाराष्ट्र बंद का समर्थन महाराष्ट्र लोकतांत्रिक गठबंधन, वामपंथी लोकतांत्रिक गठबंधन, जातिमुक्त आंदोलन परिषद और एल्गार परिषद में शामिल 250 संगठनों के मोर्चे और संभाजी ब्रिगेड ने किया है। बंद को देखते हुए सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम किए गए हैं। कई इलाकों में एहतियातन धारा 144 लगा दी गई है। महाराष्ट्र बंद होने से राज्य की 40 हजार बसें नहीं चलेंगी और पुणे हाईवे भी बंद रहेगा


Share Now :