30 साल के युवक के दिल पर था 3.5 किलो का ट्यूमर, डाक्टरों को सर्जरी में मिली सफलता

0
21
Share Now :

रायपुर: एडवाइंस कॉर्डियक इंस्टीट्यूट (एसीआइ) के डॉक्टर्स ने एक बार फिर जटिलतम सर्जरी कर 30 साल के युवा की जान बचा ली। मेडिएस्टिनल ट्यूमर ठीक हार्ट के ऊपर था। हार्ट के साथ-साथ लंग्स को भी दबाते चले जा रहा था। 3.5 किलो के इस ट्यूमर को अगर समय रहते न निकाला जाता तो संभव था कि यह हार्ट की पंपिंग रोक देता, मरीज की जान भी चली जाती। डॉक्टर्स इस बात को लेकर उत्साहित हैं कि मरीज पूरी तरह से स्वस्थ्य है। ऐसे केस में कई बार एक अंग में लकवा होने की आशंका होती है। हार्ट और लंग्स पूरी तरह से सुरक्षित हैं।

कॉर्डियक थोरोसिक सर्जन डॉ. केके साहू ने मिडिया को जानकारी देते हुए बताया कि निशांत (बदला हुआ नाम) 15 दिन पहले ओपीडी में आया था। उसके पास जगदलपुर के अस्पताल में हुई सीटी स्कैन की रिपोर्ट थी, जिससे स्पष्ट था कि हार्ट के ऊपर ट्यूमर है। दोबारा किसी भी डायग्नोस की आवश्यकता नहीं पड़ी। करीब चार घंटे चली सर्जरी के बाद हमने राहत की सांस ली।


Share Now :